Battleground mobile India में Pro Player कैसे बनें ?

Battleground mobile India में Pro Player कैसे बनें ?

How to become a Pro Player in Battleground Mobile India 

हेलो नमस्कार दोस्तों आज की नई पोस्ट में आपका बहुत स्वागत है। दोस्तों अगर आप भी बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया गेम में एक प्रो प्लेयर बनना चाहते हो। तो इस पोस्ट के माध्यम से मैं आपको इसी के बारे में संपूर्ण जानकारी स्टेप बाय स्टेप देने वाला हूं। बहुत से ऐसे प्लेयर होते हैं। उन्हें यह नहीं मालूम है कि वह किस तरह से अपने गेम प्ले को improve करके एक प्रो प्लेयर बन सकते हैं। एवं इस पोस्ट में मैं आपको एक से बढ़कर एक बेहतरीन ट्रिक बताने वाला हूं। लेकिन सबसे पहले आपको यह जानना पड़ता है। कि फिलहाल में आप कौन सी लेवल के प्लेयर हो। और यह सब आप अपनी kd ( kill to die ratio) एवं tier के माध्यम से भी जान सकते हो। तो चलिए दोस्तों शुरू करते हैं।

नूब प्लेयर

बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया गेम खेलते वक्त जिन लोगों के kill कम होते हैं। या फिर वह ठीक से खेलना नहीं जानते हैं। उन्हें noob प्लेयर कहा जाता है। नूब प्लेयर का kd दो या फिर इस से कम पाया जाता है। एवं यह platinum tier के नीचे स्थित होता है।

एवरेज प्लेयर

बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया में ऐसे भी काफी सारे प्लेयर होते हैं। जो noob नहीं कहलाते हैं। लेकिन एक अच्छे प्रो प्लेयर भी नहीं माने जाते हैं। और उन्हें एवरेज प्लेयर कहा जाता है। इनकी केडी 2 से 3 के आस-पास हो सकती है। एवं tier diamond एस के आस पास होता है।

Pro प्लेयर

जिन प्लेयर्स की kd 3 से अधिक पाई जाती है। एवं वह conqueror मैं हुआ करते हैं। वह प्रो प्लेयर कहलाते हैं। खासकर बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया में काफी ऐसे प्लेयर्स होते हैं। जो आमतौर पर conqueror मैं नहीं होते हैं। लेकिन उनकी केडी 5 से भी अधिक होती है। और वह खासकर प्रो प्लेयर्स की गिनती में आते हैं।

बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया Pro Player Tips And Tricks?

अगर आप भी एक बेहतरीन प्रो प्लेयर बनना चाहते हो। तो इस पोस्ट के माध्यम से मैं आपको कुछ ऐसे ही ट्रिक स्टेप बाई स्टेप बताने वाला हूं। जो कि आपको प्रो प्लेयर बनाने में काफी ज्यादा हेल्पफुल साबित होंगी।

Sensitivity Setup

ऐसे काफी सारे प्लेयर्स होते हैं। जो बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया की default sensitivity का उपयोग करते हैं। अगर वाके ही आपके मन में एक प्रो प्लेयर बनने की ख्वाहिश है। तो आप अपनी sensitivity को custom पर रखकर गेम प्ले कर सकते हो। क्योंकि इसमें रिकॉइल कंट्रोल में रहता है। और इसका मूवमेंट भी फास्ट होता है।सबसे पहले आप अपने बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया को ओपन कर लें। फिर सेटिंग में जाने के बाद sensitivity पर क्लिक कर दें। आप इसे अपने हिसाब से भी customize कर सकते हो।

लेकिन लेकिन कम या ज्यादा करने पर आपको गेम प्ले करते वक्त प्रॉब्लम हो सकती है। और गेम खेलते वक्त कुछ समय के लिए recoil जैसी समस्या भी आ सकती है।लेकिन claw setting आपको प्रो प्लेयर बनाने में काफी ज्यादा हेल्पफुल साबित हो सकती है। आज के इस टाइम पर काफी सारे प्रो प्लेयर जो हैं। उन्हें clow सेटिंग पर ही गेम खेलना पसंद होता है। क्योंकि गेम प्ले में रिकॉर्ड एवं मूवमेंट को नियंत्रण में करना काफी सरल एवं आसान है।

कस्टम रूम खेल कर गेम प्ले को कैसे improve करते हैं ?

बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया में आप प्रो प्लेयर बनने के लिए कस्टम रूम का इस्तेमाल कर सकते हैं। अगर आप 1 से 2 दिन भी कस्टम रूम में खेल लेते हो। तो आप के गेम प्ले करने में काफी सुधार भी आ जाएगा। क्योंकि अक्सर कस्टम रूम में आमतौर पर प्रो प्लेयर भी पाए जाते हैं। कस्टम रूम में खेलने के लिए आप discord का उपयोग कर सकते हो। क्योंकि discord मैं ऐसे बहुत से सरवर अवेलेबल होते हैं। जो खासकर custom रूम मैं organize किया करते हैं।

Friends के साथ में 1 vs 1 भी खेलना चाहिए।

अगर आप एक प्रो प्लेयर बनना चाहते हैं। तो इसके लिए सबसे पहले आप को क्लोज रेंज फाइट को improve करना बहुत ही आवश्यक होता है। जो प्रो प्लेयर होते हैं। अक्सर वो क्लोज फाइट में ही सबसे ज्यादा किल लेते हैं। इसी वजह से आप tdm warhouse अपने फ्रेंड्स के साथ 1 vs 1 खेल करके क्लोज रेंज के एक बहुत ही बेहतरीन प्रो प्लेयर बन जाओगे। अगर आप अपनी फाइट में सुधार करना चाहते हैं। तो आपको उन्हीं प्लेयर के साथ खेलना चाहिए। जो पहले से ही एक खतरनाक प्रो प्लेयर हो। लेकिन इसमें एक समस्या भी होती है। क्योंकि tdm मैं 1 vs 1 खेलने के लिए कस्टम रूम की जरूरत पड़ती है। इसके लिए आपको रॉयल पास में 91 मिशन पूरे करने पड़ेंगे। जिससे आपको अनलिमिटेड रूम कार्ड 7 दिनों के बाद मिल जाएगा।

Gyroscope का प्रयोग करना चाहिए।

बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया में आज के इस वक्त में सबसे ज्यादा trend gyroscope का ही होता है। क्योंकि यह recoil बिल्कुल भी नहीं करता है. और कंट्रोल में रहता है। एवं जितने भी बड़े sports प्लेयर होते हैं। वह खासकर gyroscope का ही उपयोग करते हैं।

Gyroscope सेंसटिविटी क्या रखनी चाहिए ?

बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया में जायरोस्कोप सेंसटिविटी अलग से दी गई है। जिसमें हम अपने हिसाब से चेंजिंग कर सकते हैं। आइए जान लेते हैं। कि जायरोस्कोप सेंसटिविटी क्या होनी चाहिए।

1. अगर आप पहली बार Gyroscope का प्रयोग कर रहे हैं। तो आप इसकी सेंसटिविटी 50 तक रख सकते हो।

2. आपको अपनी जायरोस्कोप सेंसटिविटी को एक हफ्ते बाद चेंज करके 100 तक कर देना है।

3. फिर आप तीसरे हफ्ते में sensitivity को बढ़ा कर लगभग 150 से 200 के बीच में कर देना है।

4. फिर लास्ट में आप 300 तक जायरोस्कोप सेंसटिविटी को बढ़ा सकते हो।

5. सबसे महत्वपूर्ण बात आपको 8x स्कोप की सेंसिटिविटी 100 से अधिक कभी नहीं रखनी चाहिए। इससे आपको sniping करते समय प्रॉब्लम हो सकती है।

अगर ऊपर बताइए स्टेप के मुताबिक आप अपनी setting कर लेते हो। तो फिर बहुत ही जल्द आप भी जायरोस्कोप के चैंपियन बन सकते हैं।

Quality Earphones यूज करें। 

अगर जब भी आप हो बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया को खेल रहे हो। तो उस वक्त foot step एक महत्वपूर्ण भूमिका होती है। क्योंकि इसके द्वारा आप बड़े ही आसन तरीके से यह जान सकते हो। कि एनिमी आप से कितनी दूरी पर स्थित है। एवं कौन से फ्लोर पर है ? इस बीच अगर आपके पास एक अच्छी क्वालिटी की earphone नहीं है। तो आपको फुट स्टेप सुनने में थोड़ी प्रॉब्लम आ सकती है। इसलिए हमेशा बेहतरीन क्वालिटी की earphone का इस्तेमाल करें। जिससे आप एनीमी के फुट स्टेप की आवाज सुन पाए और ज्यादा से ज्यादा संख्या में kill कर पाए।

हमेशा बेहतर Gaming Device मैं खेलना चाहिए।

यह बिल्कुल सच है। कि आपका device जितना ज्यादा श्रेष्ठ है। आप उतना ही अच्छा गेम प्ले कर सकते है। क्योंकि अगर आप एक अच्छे गेमिंग डिवाइस में खेलोगे। तो इससे आपको अधिक फ्रेमरेट भी मिलते हैं। और इसी वजह से गेम में आपका मूवमेंट्स एवं स्किल भी अच्छा हो जाता है। आप इसके लिए कोई भी flagship मोबाइल buy कर सकते हो। क्योंकि इसका प्रोसेसर काफी अच्छा होता है। वैसे तो बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया खेलने के लिए i phone सबसे बेस्ट बताया गया है।और खासकर काफी सारे स्पोर्ट्स प्लेयर इसी device का यूज़ करते हैं। अगर आपके पास एक अच्छा डिवाइस नहीं है। तो फिर आप एक बजट डिवाइस में भी गेम प्ले कर सकते हो। क्योंकि काफी सारे प्रो प्लेयर भी ऐसे ही दवा का इस्तेमाल करते हैं।

Cheer Park में Practice करें

बैटल ग्राउंड मोबाइल इंडिया में जितने भी प्रो प्लेयर है। वहां 1 से 2 दिन चीर पार्क में ही खेलते हैं। क्योंकि स्किल को सुधार में लाने का यह सबसे अच्छा तरीका है। अगर आप भी चीर पार्क में खेल के बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया की एक प्रो प्लेयर बनना चाहते हो। तो उसकी सारी नॉलेज मैं आपको स्टेप बाय स्टेप नीचे बताने वाला हूं।

1. अगर आप चीर पार्क में खेल रहे हैं। तो सबसे पहले आप 10 मिनट तक recoil को नियंत्रण में करने की कोशिश करें।

2. अगर आप एक स्नाइपर पर हो। तो कुछ समय के लिए आप कोई चीज को की प्रैक्टिस भी कर सकते हो।

3. फिर आप कम से कम 30 मिनट तक अपने फ्रेंड्स के साथ क्लोज रेंस की फाइट की प्रैक्टिस करें।

4. प्रैक्टिस समाप्त हो जाने के बाद आप एक एक या दो मैच चीर पार्क में जरूर खेलें। इससे आपका खुद पर विश्वास बढ़ता है। और आप को खेलने की हिम्मत मिलती है।

सोलो vs स्क्वाड भी खेलना चाहिए ।

अगर आप हर एक सिचुएशन मैं clutch कर रहे हो। तो फिर आप भी बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया में प्रो प्लेयर बन सकती हो। आपको इसके लिए अधिक से अधिक सोलो vs स्क्वाड खेलना पड़ेगा। इससे आपके गेम प्ले में सुधार होने के साथ-साथ आप हर एक परिस्थिति में भी अच्छे से खेलना सीख जाओगे।

1. सोलो vs स्क्वाड में आपको hotdrop भी जरूर करना चाहिए। क्योंकि इस वजह से आपको सबसे ज्यादा किल मिलते हैं।

2. एवं आप को diamond tier से top पर ही सोलो vs स्क्वाड खेलना चाहिए। क्योंकि इस वजह से आपको real एनिमी मिलते हैं। जिन्हें अगर आप किल कर लेते हो। तो आप अपनी स्किल में भी सुधार कर सकते हो।

3. अगर आप किसी प्लेयर को किल कर रहे हो। तो इसकी पहचान उसकी पूरी squad को clutch करने का प्रयास करें।

लोड आउट ( loadout ) सही प्रकार से करें ।

अगर आपकी भी एक प्रो प्लेयर बनने की ख्वाहिश है। तो loadout का होना आपके लिए काफी जरूरी होता है। आप के बैग में क्या सामान रखा है? क्या नहीं ? इससे आपके गेम प्ले पर भी प्रभाव पड़ सकता है।

Rush करने के लिए सबसे सर्वश्रेष्ठ loadout

• akm + red dot + 100 7.62 ammo

• m416 + 6x scope + 200 5.56 ammo.

•3 granades + 5 smokes.

Sniper के लिए सर्वश्रेष्ठ loadout

•m416+ red dot + 300 5.56 ammo.

•kar98k + 8x scope + 30 7.62 ammo.

•4 granades + 4 smokes

निष्कर्ष ( conclusion )

दोस्तों बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया में एक प्रो प्लेयर कैसे बन सकते हैं। एवं बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया गेम की सेंसटिविटी क्या होनी चाहिए। इन सब की नॉलेज मैंने आपको स्टेप बाई स्टेप विस्तार पूर्वक रूप देने की कोशिश की है। आशा करता हूं। हमारी पोस्ट के द्वारा दी गई नॉलेज आपको बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया में एक प्रो प्लेयर बनने में काफी ज्यादा मदद करेगी। अगर आपको हमारी यह नॉलेज थोड़ी सी भी अच्छी लगी हो। तो इसे अपने दोस्तों के साथ एवं सोशल मीडिया जैसे प्लेटफार्म पर भी जरूर शेयर करें धन्यवाद।

2 thoughts on “Battleground mobile India में Pro Player कैसे बनें ?”

Comments are closed.